मध्य प्रदेश की राजधानी क्या है – Madhya Pradesh ki Rajdhani

क्‍या आपको पता है कि मध्य प्रदेश की राजधानी (Madhya Pradesh ki Rajdhani) क्‍या है, यह कहाँ पर स्थित है और इस राज्‍य के मुख्‍यमंत्री कौन है? यदि आपको इन सारे सवालों के जवाब नहीं पता और आप इनके उत्तर जानना चाहते हैं, तो आज  के इस आर्टिकल में हम आपको इन सभी प्रश्नों के उत्तर देंगें। मध्यप्रदेश से जुड़े यह प्रश्न सभी अक्सर प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछे जाते हैं। तो आइये आज हम आपको बताते है। 

मध्‍यप्रदेश राज्य – Madhya Pradesh State

मध्य प्रदेश कैपिटल को जानने से पहले आपको इसके बारे में कुछ जानकारी देते है। मध्‍यप्रदेश भारत का ही एक राज्‍य है, इसे ह्रदय प्रदेश और सोया प्रदेश के नाम से भी जाना जाता है। मध्‍यप्रदेश का क्षेत्रफल 3,08,252 वर्ग किलोमीटर है तथा इस राज्‍य में 55 जिले हैं। यह राज्य भारत का दूसरा सबसे बड़ा राज्य है। मध्‍यप्रदेश का गठन 1 नवम्‍बर 1956 को हुआ था। हम आपको बता दें कि मध्‍यप्रदेश 1 नवम्‍बर 2000 तक क्षेत्रफल के आधार पर भारत का सबसे बड़ा राज्‍य था। इसके बाद छत्तीसगढ़ के अलग होने बाद इसका क्षेत्रफल कम हो गया।

मध्‍यप्रदेश का सबसे बड़ा शहर इन्‍दौर है। प्रदेश के गठन के साथ ही इसकी राजधानी और विधानसभा का भी चयन कर लिया गया था। इस MP राज्‍य की सीमाऐं 5 राज्‍यों की सीमाओं से मिलती हैं। इसके उत्‍तर में उत्‍तर प्रदेश, पूर्व में छत्तीसगढ़, दक्षिण में महाराष्‍ट्र, पश्चिम में गुजरात, और उत्‍तर पश्चिम में राजस्‍थान है। मध्‍यप्रदेश को पर्यटक के रूप में भी जाना जाता है। 

यह भी पढ़ें – मध्य प्रदेश के जिले और संभाग 2020 में – Madhya Pradesh Ke Jile Aur Sambhag 2020

मध्य प्रदेश की जनसंख्या कितनी है 2020

मध्‍यप्रदेश राज्य - Madhya Pradesh State

हम आपको बता दें कि मध्‍यप्रदेश की जनसंख्‍या 2011 के अनुसार 7,26,26,809 है। इसका जनसंख्या घनत्व 236 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर हैं। मध्यप्रदेश की वर्तमान जनसंख्या यानि की 2020 में mp की जनसंख्या 8,45,16,795 है।

यह भी पढ़ें – MP GK in Hindi – मध्यप्रदेश सामान्य ज्ञान

मध्‍यप्रदेश की राजधानी कौन सी है Madhya Pradesh Capital in Hindi

मध्य प्रदेश की राजधानी (Bhopal) है। भोपाल का प्रचीन नाम भूपाल है। इस शहर का नाम एक महाप्रतापी गोंड राजा भूपाल शाह सल्‍लाम के नाम पर पड़ा था। भोपाल की जनसंख्‍या 2011 के अनुसार 1,798,218 है। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल को राजा भोज की नगरी तथा झीलों की नगरी कहा जाता है, क्‍योंकि यहाँ पर कई छोटे बड़े ताल हैं।

भोपाल के अरेरा हिल्स पर पाँच दशक पूर्व स्‍थापित विडला मंदिर वर्षों से आस्‍था का केन्‍द्र रहा है। भोपाल के पास स्थित सांची का स्‍तूप पर्यटकों के आर्कषक करता है जो कि बहुत ही प्रसिद्ध है। मध्‍यप्रदेश की राजधानी भोपाल कई आंदोलनों का केन्‍द्र रहा है। 3 दिसम्‍बर 1984 में अमरीकी कम्‍पनी, यूनियन कार्बाइड से मिथाइल आइसोसाइनेट गैस के रिसाव के कारण लगभग बीस हजार लोग मारे गये थे। 

यह भी पढ़ें – मध्यप्रदेश का राजकीय पक्षी क्या है?

भोपाल मध्‍यप्रदेश की राजधानी कब बनी 

जैसा की हम जानते हैं कि भोपाल मध्‍यप्रदेश की राजधानी है। पर क्‍या आपको यह पता है कि यह मध्‍यप्रदेश की राजधानी कब बनी। भोपाल मध्‍यप्रदेश की राजधानी सन् 1956 में बनी थी। 1956 को मध्‍यप्रदेश गठन के समय इसकी राजधानी के लिए कई शहरों के नाम आये थे, पर मध्‍यप्रदेश की राजधानी भोपाल को ही बनाया गया था। 

मध्‍यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री कौन हैं 

मध्‍यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान है। इनका जम्‍न 5 मार्च 1959 को हुआ था। इनका निवास स्‍थान भेपाल है। इनकी पत्‍नी का नाम साधना सिंह है। इनके दो बच्‍चे हैं। शिवराज सिंह चौहान मध्‍यप्रदेश के वर्तमान राज्‍य के मुख्‍यमंत्री हैं तथा भारतीय जनता पार्टी के वरिष्‍ठ नेता एवं वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष भी हैं। इन्‍होने लम्‍बे समय तक मुख्‍यमंत्री का कार्यभाल सम्‍भाला है। शिवराज सिंह चौहान मध्‍यप्रदेश के 19 वें मुख्‍यमंत्री हैं। ये 23 मार्च 2020 को कमलनाथ के स्‍थान पर मध्‍यप्रदेश राज्‍य के चौथी बार मुख्‍यमंत्री बने हैं। 

यह भी पढ़ें – मध्यप्रदेश की नदियाँ – Madhya Pradesh Ki Nadiya

मध्य प्रदेश का इतिहास

MP अर्थात् मध्य प्रदेश का इतिहास बहुत पुराना है। मध्य प्रदेश का पुराना नाम अवंति था और इसकी राजधानी उज्जैन (Ujjain) थी। यह राज्य मौर्य साम्राज्य का एक अंग था फिर यह मालवा के नाम से जाना जाने लगा।

मध्यप्रदेश सामान्य ज्ञान बुक

यह भी पढ़ें –

यदि आप सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहें और आपको हमारे द्वारा दी गई पसंद आयी है तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। इस प्रकार की और अधिक जानकारी के लिए हमारे Facebook के पेज को Like और हमें Twitter पर फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment