सौरमंडल (सोलर सिस्टम) – Solar System in Hindi

सोलर सिस्टम (Solar System in Hindi) क्या है और हमारे सौरमंडल में कितने ग्रह, उपग्रह और क्षुद्रग्रह है उसके नाम के नाम क्या-क्या है? आज के इस आर्टिकल में हम आपको Solar System के बारे सम्पूर्ण जानकारी देंगे। हमारा सौरमंडल, अंतरिक्ष का प्रमुख हिस्सा है जिसमें हमारी पृथ्वी भी आती है और इसी पृथ्वी पर हम सभी अपना जीवनयापन रहें हैं।

सौरमंडल क्या है – Solar System in Hindi

आइये सबसे हम सौरमंडल के बारे में जानते है कि इसकी परिभाषा क्या है। सौरमंडल को अंग्रेजी में सोलर सिस्टम (Solar System) कहा जाता हैं। सोलर सिस्टम का सबसे मुख्य बिंदु सूर्य होता है जिसके चारोंओर सभी ग्रह गुरुत्वाकर्षण बल के कारण परिक्रमा करते हैं। यह बल सौरमंडल के सभी खगोलीय पिंडों को बांध के रखता है और अपने मार्ग पर घूमते हुए सूर्य के चक्कर लगाते हैं। Solar System के बारे में अधिक से अधिक जानकारी के लिए कई देशों के विज्ञानिक इसकी रिसर्च में अभी भी लगे हुए है। आइये हम आपको सौरमंडल के बारे अधिक विस्तार से बताते हैं।

पोलैंड के खगोल खगोलशास्त्री निकोलस कोपरनिकस ने दर्शाया था कि सूर्य ब्रम्हांड के केंद्र में है सभी ग्रह इसकी परिक्रमा करते हैं। ग्रहों की कक्षीय गति के बारे में जोहानेस केप्लर ने बताया था। हमारे सौर परिवार के सदस्यों में सूर्य, ग्रह, बौने ग्रह, प्राकृतिक उपग्रह, क्षुद्रग्रह, उल्का पिंड और धूमकेतु आदि आते हैं।

यह भी पढ़ें – वायुमंडल में सबसे हल्‍की गैस कौन सी है – Lightest gas in the universe in Hindi

सोलर सिस्टम वीडियो

सूर्य (सूरज) – Sun

सूर्य हमारे सोलर सिस्टम का प्रधान है, यह एक गैसीय गोला है जिसमें सबसे अधिक मात्रा में हाइड्रोजन पाया जाता हैं। सूर्य में 71% हाइड्रोजन, 26.5% हीलियम और 2.5% अन्य तत्व पाए जाते हैं, इसके केन्द्रीय भाग को क्रोड (Core) कहते है। हमारी मंदाकिनी का नाम आकाशगंगा या दुग्धमेखला है जिसको अंग्रेजी में Milky Way कहा जाता हैं। सूर्य दुग्धमेखला मंदकिनी के चारों ओर 250 किलोमीटर प्रति सेकंड से चक्कर लगता हैं। सूर्य की उम्र 4.6 बिलियन वर्ष है और यह लगातार हमें 1011 वर्ष तक ऊर्जा देता रहेगा। सूरज अपने अक्ष पर पूर्व से पश्चिम दिशा की ओर घूमता है और इसका मध्य का भाग 25 दिन में और ध्रुवीय भाग 35 दिन में एक चक्कर लगाता हैं। सूर्य हमारी पृथ्वी से 13 लाख गुना बड़ा और इसके प्रकाश को हमारी पृथ्वी पर आने में 8 मिनट 16 सेकंड लगते हैं।

यह भी पढ़ें – ग्लोबल वार्मिंग किसे कहते है – Global warming in Hindi

सौर मंडल में कितने ग्रह है – Solar System Planets Name in Hindi

क्या आप जानते है कि हमारे सौर परिवार में किनते ग्रह है और उनके नाम क्या है। हमारे सोलर सिस्टम में वर्तमान में 8 ग्रह है। इसके पहले इनकी संख्या 9 थी लेकिन यम (Pluto) को ग्रह की श्रेणी से हटा कर बौने ग्रह में रख दिया है। आइये सभी ग्रहों के नामों को हिंदी और अंग्रेजी में जानते हैं

Planets Name in Hindi and English

No.हिंदी नामEnglish Name
1.बुधMercury (मर्करी)
2.शुक्र      Venus (वीनस)
3.पृथ्‍वीEarth (अर्थ)
4.मंगलMars (मार्स)
5.बृहस्पतिJupiter (जुपीटर)
6.शनिSaturn (सैटर्न)
7.अरूणUranus (युरेनस)
8.वरूणNeptune   (नेप्‍च्‍यून)

सोलर सिस्टम डायग्राम

सोलर सिस्टम डायग्राम

बुध ग्रह – Mercury in Hindi

बुध ग्रह सूर्य के सबसे निकट का और सबसे छोटा ग्रह है, इसकी सूरज से औसत दूरी लगभग 7 करोड़ किलोमीटर है। सूर्य से बुध ग्रह तक प्रकाश को आने में लगभग 3.2 मिनट लगते है। यह अपने अक्ष पर 58.65 दिनों में एक चक्कर लगाता  है और सूर्य के चारों ओर 88 दिन में एक परिक्रमा लगाता है।

शुक्र ग्रह – Venus in Hindi

शुक्र ग्रह पृथ्वी के पास का ग्रह है, इसे “शाम का तारा (Evening star)” और “सुबह का तारा (Morning Star)” के रूप में भी जाना जाता हैं। दूरी के अनुसार शुक्र ग्रह सूर्य से दूसरे नंबर पर आता है इसके बाद भी यह सबसे गर्म ग्रह हैं। शुक्र के कई लक्षण पृथ्वी के समान होने के कारण इसे पृथ्वी की बहन भी कहा जाता हैं। इस ग्रह का कोई उपग्रह नहीं है। यह सबसे चमकीला ग्रह मन जाता हैं।

पृथ्वी ग्रह – Earth in Hindi

दूरी के अनुसार पृथ्वी सूर्य से तीसरे नंबर की दूरी पर स्थित हैं। पृथ्वी अपनी धुरी पर  66½° डिग्री झुकी हुई है और यह अपने अक्ष पर 1610 किलोमीटर/घंटे की गति से 23 घंटे 56 मिनट और 4 सेकंड में एक चक्कर घूमती है। हमारी पृथ्वी 365 दिन, 5 घंटे, 48 मिनट एवं 46 सेकंड में सूर्य की परिक्रमा करती है। सूरज से पृथ्वी की निम्न की न्यूनतम दूरी की स्थिति को उपसौर (Perihelion) एवं अधिकतम दूरी की स्थिति को अपसौर (Aphelion) कहा जाता है। यह दूरी 4 जुलाई को सबसे अधिक और 3 जनवरी को सबसे कम होती हैं। हमारी पृथ्वी के 71% भाग पर जल एवं 29% भाग स्थल है।

मंगल ग्रह – Mars in Hindi

मंगल ग्रह सोलर सिस्टम में सूर्य से चौथे स्थान पर स्थित है, सूर्य से इसकी दूरी 22.79 करोड़ किलोमीटर है। मंगल ग्रह को “लाल ग्रह” भी कहा जाता हैं। इस ग्रह के फोबस (Phobos) और डीमोस (Deimos) दो उपग्रह हैं। मंगल पर भी पृथ्वी की के समान ऋतु परिवर्तन होटी है। इस ग्रह पर एवरेस्ट से भी तीन गुना ऊँचा पर्वत है जिसका नाम “निक्स ओलम्पिया” (Nix Olympia) है।

बृहस्पति ग्रह – Jupiter in Hindi

बृहस्पति ग्रह सूर्य से पाँचवे स्थान पर है, यह हमारे सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह है। सूर्य की परिक्रमा में इसे 11.9 वर्ष लगाते है। यह तारों की तरह सूर्य से प्राप्त ऊर्जा (energy) से दोगुनी या तिगुनी ऊर्जा उत्सर्जित (release) करता है। बृहस्पति का द्रव्यमान सौरमंडल के सभी ग्रहों का 71 प्रतिशत और आयतन उनका डेढ़ गुना है। इस ग्रह के 79 उपग्रह हैं। इस ग्रह पर विशाल रक्तिम धब्बा या ग्रेट रेड स्पोट है।

शनि  ग्रह – Saturn in Hindi

शनि सूर्य से दूरी के अनुसार छठा ग्रह है और यह बृहस्पति के बाद दूसरा सबसे बड़ा ग्रह है। शनि सबसे दूर का ऐसा ग्रह जिसको नंगी आँखों द्वारा देखा जा सकता हैं। इसे Solar System में “सौर मंडल का गहना” के नाम से भी जाना जाता हैं। यदि हम शनि के चन्द्रमा (उपग्रह) की बात करे तो हालही में पाए गए 20 नए चंद्रमाओं को मिलकर अभी शनि ग्रह के 82 उपग्रह हैं। अब शनि सबसे अधिक उपग्रहों वाला ग्रह बन गया है, जिसमें इसका सबसे बड़ा उपग्रह टाइटन (Titan) है। शनि सूर्य की परिक्रमा 29.5 वर्ष में पूरी करता है, यह सबसे हल्का ग्रह भी है।

अरुण ग्रह – Uranus in Hindi

अरुण सूर्य से सातवें स्थान पर स्थित ग्रह है और इस ग्रह की खोज 1781 ई. में विलियम हर्शेल (William Herschel) ने की थी। अरुण एकमात्र ऐसा ग्रह है जो एक ध्रुव से दूसरे ध्रुव तक अपने परिक्रमा कक्ष  में लगातार सूर्य के सामने रहता है और 84 वर्ष में सूर्य की परिक्रमा करता है। यूरेनस सबसे ठंडा ग्रह है और इसके उपग्रह की संख्या 15 है।

वरूण ग्रह  – Neptune in Hindi

वरूण सूर्य से आठवाँ सबसे अधिक दूरी पर स्थित ग्रह है। इसके 14 उपग्रह है जिसमें दो सबसे बड़े उपग्रह “ट्राइटन (Triton)” और “प्रोटीअस (Proteus)” हैं। वरूण ग्रह सोलर सिस्टम का तीसरा पिंड है, जहाँ जागृत ज्वालामुखी पाया गया है।

सोलर सिस्टम उपग्रह की संख्या

सभी ग्रहों के चन्द्रमा या प्राकृतिक उपग्रह की संख्या नीचे दी गई हैं।

No.ग्रह के नामउपग्रह की संख्या
1.बुध0
2.शुक्र0
3.पृथ्‍वी1
4.मंगल2
5.बृहस्पति79
6.शनि82
7.अरूण27
8.वरूण14

नोट:– बृहस्पति और शनि ग्रह के चन्द्रमा की संख्या बढ़ गई हैं और ऊपर अपडेट हुई जानकारी दी गई है।

गैस दानव ग्रह किसे कहा जाता हैं?

जिन ग्रहों पर मिटटी-पत्थर की बजाय ज़्यादातर गैस ही गैस होती है उनको गैस दानव  कहा जाता हैं। हमारे सोलर सिस्टम में बृहस्पति, शनि, अरुण (युरेनस)) और वरुण (नॅप्टयून) चार गैस दानव ग्रह है।

यह भी पढ़ें –

यदि आप सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहें और आपको हमारे द्वारा दी गई पसंद आयी है तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। इस प्रकार की और अधिक जानकारी के लिए हमारे Facebook के पेज को Like और हमें Twitter पर फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment